Greater Glory Of God

धन्य कुँवारी मरियम का स्वर्ग में उद्ग्रहण & स्वतंत्रता दिवस

The Assumption and Real Freedom in Hindi

हम भारतीय कितने सौभाग्यशाली हैं कि हमारे देश उस दिन स्वतंत्रता प्राप्त किया जिस दिन ईश्वर धन्य कुँवारी मरियम को सशरीर स्वर्ग में आरोहित कर लिए।

धन्य कुँवारी मरियम का स्वर्ग में उद्ग्रहण सच्ची स्वतंत्रता का प्रतीक हैं। ईश्वर हम हर एक के लिए भी ऐसे ही स्वतंत्रता देना चाहते हैं।

वास्तविक स्वतंत्रता केवल प्रभु येसु ही दे सकते हैं। स्वयं वही प्रभु कहते हैं, “इसलिए यदि पुत्र तुम्हें स्वतन्त्र बना देगा, तो तुम सचमुच स्वतन्त्र होगे” (सन्त योहन 8:34-36)।

धन्य कुँवारी मरियम को जिस सच्ची और वास्तविक स्वतंत्राता का वरदान देकर ईश्वर अपने यहाँ उन्हें स्थान दिए हैं, हमें भी वही सच्ची और वास्तविक स्वतंत्रता का वरदान प्रदान करें।

“मैं अपना ही आचरण नहीं समझता हूँ, क्योंकि मैं जो करना चाहता हूँ, वह नहीं बल्कि वही करता हूँ, जिससे मैं घृणा करता हूँ।”

(रोमियों 7:15)

इस दलदल से कौन हमें छुड़ा सकता है?

प्रभु येसु ने कहा,

“मै तुम से यह कहता हूँ – जो पाप करता है, वह पाप का दास है। दास सदा घर में नहीं रहता, पुत्र सदा रहता है। इसलिए यदि पुत्र तुम्हें स्वतन्त्र बना देगा, तो तुम सचमुच स्वतन्त्र होगे।

(सन्त योहन 8:34-36)

सच्ची स्वतंत्रता रुपी इस महान वरदान को जानने और धन्य कुँवारी मरियम के सशरीर स्वर्ग में उद्ग्रहण को समझने पूरे वीडियो देखिये।